कच्चा प्याज खाने से होते हैं यह नुकसान, जान लीजिए एक दिन में कितना प्याज खाना चाहिए?


 प्याज सबसे पुरानी सब्जियों में से एक है जिसे सदियों से उगाया जाता है.प्याज की सबसे खास बात यह है कि यह लगभग हर खाने की रेसिपी में डाला जाता है. सब्जी से लेकर कोई भी मसालेदार खाने वाली चीज में प्याज का इस्तेमाल किया जाता है. वहीं आपकी जानकारी के लिए बता दें कि कच्चा प्याज खाने के कई सारे साइडइफेक्ट्स होते हैं.  साथ ही आपको बताएंगे एक दिन में कितना प्याज खाना है जरूरी. 

पाचन संबंधी परेशानी

कच्चा प्याज खाने से कुछ व्यक्तियों के लिए पाचन संबंधी परेशानी का कारण बन सकता है. फ्रुक्टेन एक प्रकार का कार्बोहाइड्रेट होता है. जिसके कारण इसे पचाने में दिक्कत होती है. इससे गैस, सूजन और पेट की परेशानी हो सकती है. संवेदनशील पेट या पाचन संबंधी समस्याओं वाले लोग इन लक्षणों से बचने के लिए कच्चा प्याज लीमिट में खाना चाहिए. 

मुंह की बदबू

कच्चा प्याज खाने से सांस की भयानक दुर्गंध होती है. प्याज में पाए जाने वाले मजबूत सल्फर केमिकल गंध छोड़ता है. जो घंटों तक बनी रह सकती है. हालांकि अपने दांतों को ब्रश करने और माउथवॉश का उपयोग करने से मदद मिल सकती है, लेकिन शक्तिशाली सुगंध को पूरी तरह से खत्म करना चुनौतीपूर्ण हो सकता है.

एलर्जी

कुछ लोगों को कच्चे प्याज से एलर्जी का महसूस हो सकता है. हल्की खुजली और सूजन से लेकर सांस लेने में कठिनाई जैसी गंभीर प्रतिक्रियाओं तक हो सकते हैं. यदि आपको प्याज खाने से एलर्जी महसूस होता है तो आपको तुरंत डॉक्टर से संपर्क करना चाहिए. 

सीने में जलन

कुछ लोगों को कच्चा प्याज खाने से सीने में जलन हो सकती है या एसिड रिफ्लक्स भी हो सकती है. प्याज में पाई जाने वाली एसोफैगल स्फिंक्टर जो सीने की जलन को शांत कर सकता है. और पेट में पाए जाने वाला एसिड वापस एसोफैगस में जा सकता है. जिन लोगों को सीने में जलन की शिकायत हो उन्हें कच्चा प्याज कम खाना चाहिए. खासकर रात में सोते वक्त. 

माइग्रेन को ट्रिगर करता है

कुछ व्यक्तियों के लिए कच्चा प्याज खाने से माइग्रेन ट्रिगर कर सकता है. प्याज में टायरामाइन होता है जो सिरदर्द ट्रिगर कर सकता हैं. यदि आप माइग्रेन से ग्रस्त हैं, तो सलाह दी जाती है कि आप कच्चा प्याज सावधानी के साथ खाएं. 

इन लोगों को कच्चा प्याज ज्यादा नहीं खाना चाहिए

जो लोग हार्ट, बीपी या डायबिटीज की दवा खाते हैं उन्हें ज्यादा मात्रा में कच्चा प्याज नहीं खाना चाहिए. इससे उनकी शारीरिक परेशानी बढ़ सकती है. 

सब्जी में भी 1-2 प्याज डालना चाहिए. इससे ज्यादा प्याज खाना शरीर के लिए नुकसानदायक साबित हो सकता है. 

Previous Post Next Post