छत्तीसगढ़ के नए मुख्यमंत्री होंगे विष्णुदेव साय, पूर्व CM रमन सिंह के हैं करीबी


नई दिल्‍ली : छत्तीसगढ़ (Chhattisgarh) में विष्‍णुदेव साय (Vishnu Deo Sai) नए मुख्‍यमंत्री होंगे. साय आदिवासी समुदाय से आते हैं और प्रदेश के कुनकुरी से विधायक हैं. साय छत्तीसगढ़ के बड़े आदिवासी नेता हैं. भाजपा विधायक दल की बैठक (BJP Legislative Party Meeting) में उनके नाम पर मुहर लगाई गई. उन्‍हें पूर्व मुख्‍यमंत्री रमन सिंह का करीबी माना जाता है. 3 दिसंबर को छत्तीसगढ़ विधानसभा चुनाव के परिणाम (Chhattisgarh Assembly Election Results) आने के बाद से ही राज्‍य में मुख्‍यमंत्री को लेकर अटकलें लगातार तेज थीं. हालांकि अब इन अटकलों पर विराम लग गया है. 

भाजपा नेताओं ने बताया कि रविवार को यहां पार्टी पर्यवेक्षकों की उपस्थिति में पार्टी के नवनिर्वाचित विधायकों के दल ने साय को अपना नेता चुना. उन्होंने बताया कि राज्य के पूर्व मुख्यमंत्री रमन सिंह ने साय के नाम का प्रस्ताव किया तथा प्रदेश अध्यक्ष अरुण साव और वरिष्ठ नेता बृजमोहन अग्रवाल ने उनका समर्थन किया. 

भाजपा नेताओं ने बताया कि पार्टी के नव निर्वाचित विधायकों की दोपहर बाद यहां बैठक आयोजित की गई जिसमें पार्टी के केंद्रीय नेतृत्व द्वारा नियुक्त पर्यवेक्षक केंद्रीय मंत्री अर्जुन मुंडा, सर्बानंद सोनोवाल तथा पार्टी के राष्ट्रीय महासचिव दुष्यंत कुमार गौतम उपस्थित थे. उन्होंने बताया कि भाजपा के प्रदेश कार्यालय कुशाभाऊ ठाकरे परिसर में आयोजित इस बैठक में प्रदेश प्रभारी ओम माथुर, केंद्रीय मंत्री और चुनाव सह प्रभारी डॉक्टर मनसुख मांडविया, भाजपा संगठन सह प्रभारी नितिन नबीन, भाजपा प्रदेश अध्यक्ष अरुण साव, भाजपा के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष और पूर्व मुख्यमंत्री डॉक्टर रमन सिंह भी मौजूद थे. 

सरपंच से सीएम तक का सफर 

विष्‍णुदेव साय ने अपना राजनीतिक सफर सरपंच से शुरू किया था. साथ ही साय 1990 से लेकर 1998 तक मध्य प्रदेश विधानसभा के सदस्य भी रह चुके हैं. 

केंद्र में मंत्री भी रह चुके हैं साय 

इसके साथ ही साय 1999 में 13वीं लोकसभा के लिए रायगढ़ से निर्वाचित हुए थे. उन्‍हें 2006 में छत्तीसगढ़ में पार्टी का प्रदेश अध्यक्ष बनाया गया था. साय केंद्र में राज्‍य मंत्री भी रह चुके हैं. 

आरएसएस के करीबी हैं साय 

साय भाजपा की राष्ट्रीय कार्य समिति के भी सदस्य रहे हैं. साथ ही उन्‍हें आरएसएस का भी करीबी माना जाता है. 

चुनाव में भाजपा ने जीती 54 सीटें 

बता दें कि छत्तीसगढ़ की 90 सदस्यीय विधानसभा के लिए हाल में संपन्न चुनाव में भाजपा ने 54 सीट पर जीत दर्ज की है और भूपेश बघेल नीत कांग्रेस सरकार को अपदस्थ कर दिया है. कांग्रेस को चुनाव में 35 सीटों पर जीत मिली है, जबकि 2018 में उसे 68 सीटों पर सफलता मिली थी. 

Previous Post Next Post