अयोध्या में प्राण प्रतिष्ठा से पहले रामलला की नई तस्वीर आई सामने | Pran Pratishtha


नई दिल्ली:
अयोध्या स्थित राम मंदिर में रामलला की प्राण प्रतिष्ठा कार्यक्रम की तैयारियां आखिरी दौर में है. प्राण प्रतिष्ठा से पहले मंदिर परिसर और पूरे अयोध्या शहर को सजाया जा रहा है. इन सब के बीच अब रामलला की मूर्ति की नई तस्वीर सामने आई है. रामलला की मूर्ति की नई तस्वीर में रामलला की आंखों पर पीले रंग की पट्टी बंधी हुई है. साथ ही उनके गले में फूलों की माला दिख रही है. बता दें कि गुरुवार रात भी रामलला की मूर्ति की एक तस्वीर सामने आई थी. लेकिन उस मूर्ति के चेहरे को कपड़े से ढका गया था. इस मूर्ति में रामलला के चेहरे से उस कपड़े को हटा दिया गया है. अब सिर्फ आंखों पर पट्टी लगी दिख रही है. 

राम मंदिर परिसर में घुमाई गई रामलला की मूर्ति

प्राण प्रतिष्ठा के लिए 16 जनवरी से ही अनुष्ठान शुरू हो गए हैं. 17 जनवरी (बुधवार) को गर्भगृह में स्थापित होने वाली रामलला की 200 किलो वजन की नई मूर्ति को जन्मभूमि मंदिर परिसर कल लाया गया था और उसे आज गर्भगृह में पहुंचाया गया है. पहले इस रामलला की मूर्ति को मंदिर परिसर भ्रमण कराने का प्लान था, लेकिन मूर्ति का वजन होने के कारण इसकी जगह रामलला की 10 किलो की चांदी की मूर्ति परिसर में घुमाई गई.

7 दिन तक चलेगा प्राण-प्रतिष्ठा का कार्यक्रम

अयोध्या के राम मंदिर में 22 जनवरी को रामलला की प्राण-प्रतिष्ठा का कार्यक्रम 7 दिन तक चलेगा. 

16 जनवरी को मंदिर ट्रस्ट, श्री राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र की तरफ से नियुक्त किए गए यजमान प्रायश्चित समारोह की शुरुआत हुई.

17 जनवरी को 5 साल के रामलला की मूर्ति के साथ एक काफिला अयोध्या पहुंचा. रामलला की मूर्ति गर्भगृह में लाई गई. 

18 जनवरी को गणेश अंबिका पूजा, वरुण पूजा, मातृका पूजा, ब्राह्मण वरण और वास्तु पूजा के साथ औपचारिक अनुष्ठान शुरू होंगे.

19 जनवरी को पवित्र अग्नि जलाई जाएगी. नवग्रह की स्थापना और हवन किया जाएगा.

20 जनवरी को राम जन्मभूमि मंदिर के गर्भगृह को सरयू जल से धोया जाएगा, जिसके बाद वास्तु शांति और 'अन्नाधिवास' अनुष्ठान होगा.

21 जनवरी को रामलला की मूर्ति को 125 कलशों के जल से स्नान कराया जाएगा.

22 जनवरी की सुबह की पूजा के बाद दोपहर में 'मृगशिरा नक्षत्र' में रामलला के मूर्ति का अभिषेक किया जाएगा.

अयोध्या में चल रहे बड़े प्रोजेक्ट्स

अयोध्या में सिर्फ राम मंदिर ही नहीं बन रहा, बल्कि पूरी अयोध्या ही बदल रही है. यहां 30,923 करोड़ रुपये के 200 से ज्यादा प्रोजेक्ट्स चल रहे हैं. 37 डिपार्टमेंट इन प्रोजेक्ट को पूरा करने में जुटे हैं. UP हाउसिंग एंड डेवलपमेंट बोर्ड ने 1200 एकड़ में न्यू अयोध्या टाउनशिप डेवलप करने का प्लान बनाया है. यहां स्टेट गेस्ट हाउस, रेसिडेंशियल अपार्टमेंट के अलावा होटल्स भी बनेंगे. सीवेज सिस्टम डेवलपमेंट, वाटर सप्लाई प्रोजेक्ट, नए पावर स्टेशंस के साथ ही अंडरग्राउंड केबलिंग का काम भी हो रहा है.

Previous Post Next Post