अडानी ग्रुप की सीमेंट क्षेत्र में बड़ी डील, ACC ने एशियन कॉन्क्रीट्स एंड सीमेंट्स को खरीदा


अडानी समूह ने अपनी सीमेंट कंपनियों एसीसी और अंबुजा सीमेंट्स के जरिए पहले ही इस सेक्टर में काफी बड़ी बाजार हिस्सेदारी हासिल कर रखी है. अब अडानी समूह एक और सीमेंट कंपनी का अधिग्रहण करने जा रहा है. एसीसी लिमिटेड के बोर्ड ने एशियन कॉन्क्रीट्स एंड सीमेंट्स प्राइवेट लिमिटेड में बची 55  फीसदी हिस्सेदारी खरीदने के फैसले पर मुहर लगा दी है. एसीसी के पास पहले ही एसीसीपीएल की 45 फीसदी हिस्सेदारी है.

ACC की बोर्ड मीटिंग में हुआ फैसला

एसीसी की आज 8 जनवरी को बोर्ड मीटिंग हुई है और इसमें 425.96 करोड़ रुपये में एशियन कॉन्क्रीट्स एंड सीमेंट्स के साथ बची हुई 55 फीसदी हिस्सेदारी के लिए सौदा करने का फैसला लिया गया है. ACCPL की नालागढ़ (हिमाचल प्रदेश) में 1.3 MTPA सीमेंट कैपिसिटी है. इसकी सहायक कंपनी एशियन फाइन सीमेंट्स प्राइवेट लिमिटेड (AFCPL) की राजपुरा (पंजाब) में 1.5 MTPA सीमेंट कैपेसिटी है. इस सौदे में ये सब्सिडियरी कंपनी भी अडानी समूह के अंतर्गत आ जाएगी.

अडानी सीमेंट के तहत आने वाली एसीसी ने सेबी को दी जानकारी

आज एक एक्सचेंज फाइलिंग में अडानी सीमेंट की ओर से एसीसी ने सिक्योरिटीज एंड एक्सचेंज बोर्ड ऑफ इंडिया (सेबी) को इस बात की आधिकारिक जानकारी दे दी है. एसीसी लिमिटेड, अंबुजा सीमेंट्स लिमिटेड की सहायक कंपनी है. ये सीमेंट और कंस्ट्रक्शन मैटीरियल सेक्टर की अग्रणी यूनिट है. मौजूदा एशियन कंक्रीट्स एंड सीमेंट्स प्राइवेट लिमिटेड (एसीसीपीएल) में एसीसी के पास पहले से ही 45 फीसदी हिस्सेदारी है.

कंपनी ने रेगुलेटरी फाइलिंग के जरिए अपने मौजूदा प्रमोटर से 775 करोड़ रुपये के एंटरप्राइज वैल्यू पर एसीसीपीएल में बची हुई 55 फीसदी हिस्सेदारी के अधिग्रहण की घोषणा कर दी है. जिसके परिणामस्वरूप एसीसीपीएल का पूरा स्वामित्व एसीसी को हासिल हो गया है. ईवी में कैश और 35 करोड़ रुपये कैश के बराबर रुपये शामिल हैं.

एसीसी के शेयर का हाल

सुबह 11 बजकर 35 मिनट पर एसीसी का शेयर 2,350.05 रुपये पर कारोबार कर रहा था. इसमें 27.40 रुपये या 1.15 फीसदी की गिरावट देखी जा रही है.

Previous Post Next Post