'22 जनवरी के बाद आपको याद आ जाएगा त्रेतायुग', मथुरा में सीएम योगी ने क्यों कही ये बात


 केंद्रीय रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह सोमवार को नए साल के पहले दिन यूपी के मथुरा के दौरे पर रहे. इस दौरान राजनाथ सिंह और उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने वृंदावन में लड़कियों के लिए 'संविद गुरुकुलम, सैनिक स्कूल' का उद्घाटन किया. इसके बाद बीजेपी के दोनों वरिष्ठ नेताओं ने तीन दिवसीय षष्ठीपूर्ति महोत्सव को संबोधित किया. इस दौरान सीएम योगी ने कहा कि 22 जनवरी को रामलला की प्राण प्रतिष्ठा के बाद त्रेतायुग याद आ जाएगा.

इस कार्यक्रम में सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा कि आज दुनिया में भारत का सम्मान बढ़ा है. एक नया भारत दिख रहा है, जो लोग अयोध्या का नाम लेने से कतराते थे वो अब कह रहे हैं कि हमें निमंत्रण मिलेगा तो हम भी वहां जाएंगे. बदलाव है. पहले अयोध्या की जो संरचना थी, वहां की सड़के एक सिंगल रेल लाइन जाती थी और उस पर भी कभी-कभी ही ट्रेन जाती थी. आज अयोध्या के अंदर भी आपको 4 और 6 लेन की सड़के मिलेंगी. 22 जनवरी के बाद अयोध्या जाकर देखिए, आपको त्रेतायुग याद आ जाएगा. 

रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने क्या कहा?

मथुरा में षष्ठीपूर्ति महोत्सव को संबोधित करते हुए केंद्रीय रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने कहा कि जिस जीव का साध्य राधा हैं, और उनको पाने का साधन भी राधा जी ही हैं. मन्त्र भी 'राधा' हैं, और मन्त्र देने वाली गुरु भी स्वयं राधा ही हैं. जिसका सब कुछ ही राधा हैं, और जीवन प्राण भी राधा ही हैं. ऐसे जीवों को, पाने के लिए शेष कुछ बचता ही नहीं है. 

"कृष्ण के नाम में ही सुख है"

राजनाथ सिंह ने आगे कहा कि जब भी भगवान कृष्ण का जिक्र होता है, हमारा मन भक्ति से भर जाता है. हमारे प्राचीन ग्रंथों में लिखा है- 'कर्षति आकर्षति इति कृष्ण' अर्थात कृष्ण ही एक हैं जो तुम्हें आकर्षित करता है. अब जिसके नाम में ही आकर्षण है, उसकी ओर कोई कैसे आकर्षित नहीं होगा? कृष्ण के नाम में ही सुख है.

Previous Post Next Post