मोहन यादव ने ली मध्य प्रदेश के नए मुख्यमंत्री पद की शपथ, जगदीश देवड़ा और राजेंद्र शुक्ला बने डिप्टी सीएम | MP CM Oath


नई दिल्ली
: मध्य प्रदेश को आज अपना नया मुख्यमंत्री मिल गया है. मोहन यादव (Mohan Yadav) ने पीएम नरेंद्र मोदी, अमित शाह (Amit Shah), जेपी नड्डा समेत अन्य गणमान्य अतिथियों की मौजूदगी में सीएम पद की शपथ (MP CM Oath Ceremony) ली. मोतीलाल नेहरू स्टेडियम में शपथ ग्रहण समारोह आयोजित किया गया. सीएम मोहन यादव (Mohan Yadav) के साथ दो डिप्टी सीएम जगदीश देवड़ा और राजेंद्र शुक्ला ने भी पद की शपथ ली. मध्य प्रदेश विधानसभा चुनाव में शानदार जीत के बाद बीजेपी आलाकमान ने मोहन यादव को सीएम पद के लिए चुना. मोहन यादव उज्जैन दक्षिण से बीजेपी विधायक हैं और राज्य में बड़ा ओबीसी चेहरा हैं. उनको राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) का करीबी माना जाता है.

नए CM मोहन यादव का शपथ ग्रहण

सीएम मोहन यादव के शपथ ग्रहण समारोह के दौरान पीएम मोदी,(PM Modi) गह मंत्री अमित शाह, बीजेपी अध्यक्ष जेपी नड्डा, केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी, यूपी के  सीएम योगी, मध्य प्रदेश के पूर्व सीएम शिवराज सिंह चौहान, केंद्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया, और विधानसभा स्पीकर नरेंद्र तोमर मंच पर मौजूद रहे. इन सभी गणमान्य अतिथियों की मौजूदगी में मोहन यादव ने सीएम तो जगदीश देवड़ा और राजेंद्र शुक्ला ने डिप्टी सीएम के तौर पर शपथ ली.नए सीएम के शपथ ग्रहण समारोह में राज्य के पुराने सीएम शिवराज सिंह ने हाथ हिलाते हुए जनता का अभिवादन किया. 

मोहन यादव पहली बार कब बने विधायक? 

मोहन यादव पहली बार 2013 में उज्जैन दक्षिण से विधायक चुने गए थे. इसके बाद 2018 और फिर 2023 में भी विधानसभा सीट पर जीत हासिल की. वह शिवराज कैबिनेट में उच्च शिक्षा मंत्री रह चुके हैं. बीजेपी आलाकमान ने शिवराज सिंह चौहान के बाद अब उनको  राज्य की सत्ता सौंपी है. 

OBC, दलित, ब्राह्मण वोटों पर बीजेपी की नजर

मध्य प्रदेश में मोहन यादव (ओबीसी) का प्रतिनिधित्व करते हैं. उनके डिप्टी के तौर पर जगदीश देवड़ा (दलित) और राजेंद्र शुक्ला (ब्राह्मण) समुदाय का नेतृत्व कर रहे हैं. जबकि पूर्व केंद्रीय कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर के रूप में एक ठाकुर को भी सरकार में जगह दी गई है. नरेंद्र सिंह तोमर को विधानसभा का स्पीकर बनाया गया है.

जगदीश देवड़ा, राजेंद्र शुक्ला डिप्टी CM

छत्तीसगढ़ (Chhattisgarh) के सीमा पार भी बीजेपी आदिवासी वोटों पर कड़ी नजर रख रही है. पार्टी ने एसटी उम्मीदवारों के लिए रिजर्व 47 विधानसभा सीटों में से 24 पर जीत हासिल की. राज्य की डेमोग्राफिक मेकअप में कम महत्वपूर्ण इस समुदाय को खुश करने के लिए बीजेपी ने जगदीश देवड़ा को डिप्टी सीएम चुना है. जबकि ब्राह्मण चेहरे राजेंद्र शुक्ला को दूसरा डिप्टी सीएम बनाया गया है. ऐसा करके बीजेपी ने राज्य में उच्च जाति के मतदाताओं को खुश रखने की संतुलित कोशिश की है.

Previous Post Next Post