कतर से आई खुशखबरी, 8 पूर्व नेवी अफसरों की मौत की सजा पर लगी रोक, क्‍या है पूरा मामला?

 


कतर से भारत के लिए गुरुवार को एक अच्‍छी खबर आई है. जासूसी के मामले में मौत की सजा पाने वाले 8 भारतीय पूर्व नेवी के सैनिकों की सजा पर रोक लगा दी गई है. विदेश मंत्रालय की तरफ से जारी बयान में कहा गया कि हमने मामले में कतर की अपील अदालत के आज के फैसले पर गौर किया है, जिसमें सजाएं कम कर दी गई हैं. विस्तृत फैसले की प्रतीक्षा है. हम अगले कदम पर निर्णय लेने के लिए कानूनी टीम के साथ-साथ परिवार के सदस्यों के साथ निकट संपर्क में हैं.

विदेश मंत्रालय ने कहा कि कतर में हमारे राजदूत और अन्य अधिकारी परिवार के सदस्यों के साथ आज अपील अदालत में उपस्थित थे. हम मामले की शुरुआत से ही उनके साथ खड़े हैं और हम सभी कांसुलर और कानूनी सहायता देना जारी रखेंगे. हम इस मामले को कतरी अधिकारियों के समक्ष भी उठाना जारी रखेंगे. इस मामले की कार्यवाही की गोपनीय और संवेदनशील प्रकृति के कारण, इस समय कोई और टिप्पणी करना उचित नहीं होगा.

बता दें कि अक्‍टूबर के महीने में कतर की अदालत ने भारत के आठ पूर्व नौसैनिकों को मौत की सजा सुनाई थी. कतर प्रशासन का कहना था कि यह भारतीय पूर्व नौसेनिक कतर में रहते हुए इजरायल की जसूरी कर रहे थे. यही वजह है कि उन्‍हें गिरफ्तार किया गया. भारत ने इस फैसले पर हैरानी जताई थी. कतर प्रशासन के साथ संपर्क किया गया. उच्‍चस्‍तर पर इस मामले को उठाया गया. कतर की अदालत में पूर्व के फैसले के खिलाफ अपील की गई. अब इस मामले में इन सैनिकों और उनके परिवारों को बड़ी राहत मिली है.

Previous Post Next Post