पनौती वाले बयान पर राहुल गांधी को बड़ा झटका, ECI ने भेजा नोटिस, दो दिनों में देना होगा जवाब

 कांग्रेस नेता राहुल गांधी को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के खिलाफ पनौती मोदी वाली टिप्पणी पर चुनाव आयोग से गुरुवार (23 नवंबर) को झटका लगा. उन्हें आयोग ने कारण बताओ नोटिस भेजकर शनिवार (25 नवंबर)  की शाम 6:00 बजे तक जवाब देने को कहा है. 

बीजेपी ने बुधवार (22 नवंबर) को ही कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी के खिलाफ चुनाव आयोग में शिकायत कर कार्रवाई की मांग की थी. पार्टी महासचिव राधा मोहन दास अग्रवाल और एक अन्य पदाधिकारी ओम पाठक सहित प्रतिनिधिमंडल में शामिल अन्य नेताओं ने राहुल गांधी के बयान को अपमानजनक करार दिया था.  

दरअसल, राहुल गांधी ने विश्व कप क्रिकेट के फाइनल मैच में ऑस्ट्रेलिया से भारत क्रिकेट टीम की हार के बाद पीएम मोदी के खिलाफ पनौती शब्द का इस्तेमाल किया था. भारत ने 50 ओवर में 240 रन बनाए थे, लेकिन ऑस्ट्रेलिया ने 43 ओवर में ही 241 रन बनाकर छह विकेट से मैच जीत लिया था. 

बीजेपी ने शिकायत में क्या कहा था?

बीजेपी ने निर्वाचन आयोग को सौंपे गए अपने ज्ञापन में कहा, ‘‘'झूठ का जाल फैलाने में लिप्त कांग्रेस अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खरगे और राहुल गांधी की टिप्पणियां इन अपराधियों के खिलाफ आपराधिक कार्यवाही शुरू करने और सख्त कार्रवाई की मांग करती हैं क्योंकि उनके आचरण में नैतिक मूल्यों के साथ-साथ चुनाव कानूनों और आदर्श आचार संहिता के दिशानिर्देशों के लिए भी कोई सम्मान नहीं है. ’’

राहुल गांधी ने क्या कहा था?

राहुल गांधी ने मंगलवार (21 नवंबर) को राजस्थान में एक चुनावी रैली को संबोधित करते हुये कहा था, 'पीएम का मतलब पनौती मोदी है. मोदी टीवी पर आते हैं और हिंदू-मुस्लिम कहते हैं और कभी-कभी क्रिकेट मैच में चले जाते हैं. वो अलग बात है कि हरवा दिया.'' इसको लेकर ही बीजेपी हमलावर होने हुए उनसे लगातार माफी की मांग कर रही है. 


Previous Post Next Post