'संस्कृति को शर्मिंदा होने का ट्रेंड बना दिया गया...' PM मोदी का विपक्ष पर हमला, असम को दी 11600 करोड़ की सौगात

 


प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी दो दिवसीय यात्रा पर शनिवार को गुवाहाटी पहुंचे. राज्यपाल गुलाब चंद कटारिया और सीएम हिमंत बिस्वा सरमा ने पीएम मोदी की अगवानी की. गुवाहाटी में पीएम मोदी खानापारा स्थित वेटरनरी कॉलेज फील्ड में भाजपा कार्यकर्ताओं ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के स्वागत के लिए एक लाख मिट्टी के दीपक जलाए. आज यानी रविवार को पीएम मोदी लगभग 11,600 करोड़ रुपये की विकास परियोजनाएं शुरू किया. उससे पहले पीएम मोदी ने आज गुवाहाटी में भव्य रोड शो किया.


PM मोदी रविवार को वेटरनरी कॉलेज फील्ड, खानापारा में एक विशाल सार्वजनिक रैली को संबोधित करेंगे. प्रधानमंत्री ने जिन प्रमुख परियोजनाओं की आधारशिला रखा उनमें मां कामाख्या दिव्य परियोजना (मां कामाख्या एक्सेस कॉरिडोर) भी शामिल है, जिसे प्रधानमंत्री की उत्तर पूर्वी क्षेत्र विकास पहल (पीएम-डिवाइन) योजना है. यह कामाख्या मंदिर आने वाले तीर्थयात्रियों को विश्व स्तरीय सुविधाएं प्रदान करेगा.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपने संबोधन में कहा ‘11,000 करोड़ रुपये की परियोजनाओं के उद्घाटन से असम, पूर्वोत्तर का दक्षिण एशिया के अन्य देशों के साथ संपर्क मजबूत होगा. इन परियोजनाओं से पर्यटन क्षेत्र में रोजगार के अवसर बढ़ेंगे… मैं अयोध्या के बाद मां कामख्या के द्वार आया हूं.’


उन्होंने आगे कहा कि ‘आज मुझे एक बार फिर मां कामाख्या के आशीर्वाद से असम के विकास से जुड़े प्रोजेक्ट्स आपको सौंपने का सौभाग्य मिला है. थोड़ी देर पहले यहां 11 हजार करोड़ रुपये के प्रोजेक्ट्स का शिलान्यास और लोकार्पण हुआ है. ये सारे प्रोजेक्ट असम और नॉर्थईस्ट के साथ ही दक्षिण एशिया के दूसरे देशों के साथ इस क्षेत्र की कनेक्टिविटी को और मजबूत करेंगे.’


पीएम मोदी ने आगे कहा ‘मैं कल शाम को यहां आया, जिस प्रकार से गुवाहाटी के लोगों ने सड़कों पर आकर स्वागत-सम्मान किया, सभी हमे आशीर्वाद दे रहे थे. मैं आप सभी का हृदय से आभार व्यक्त करता हूं. मैंने TV पर देखा कि आप लोगों ने लाखों दीप जलाए. आपका ये प्यार और अपनापन मेरी बहुत बड़ी अमानत है. अयोध्या में भव्य आयोजन के बाद मैं अब यहां मां कामाख्या के द्वार पर आया हूं. आज मुझे यहां मां कामाख्या दिव्यलोक परियोजना का शिलान्यास करने का सौभाग्य प्राप्त हुआ. इस दिव्यलोक की जो कल्पना की गई है, मुझे उसके बारे में विस्तार से बताया गया है. जब ये बनकर पूरा होगा तो ये देश और दुनिया भर से आने वाले मां के भक्तों को असीम आनंद से भर देगा.’


प्रधानमंत्री मोदी ने आगे कहा कि ‘हमारे तीर्थ, हमारे मंदिर, हमारी आस्था के स्थान, ये सिर्फ दर्शन करने की स्थली ही नहीं हैं. ये हज़ारों वर्षों की हमारी सभ्यता की यात्रा की अमिट निशानियां हैं. भारत ने हर संकट का सामना करते हुए कैसे खुद को अटल रखा, ये उसकी साक्षी. कोई भी देश अपने अतीत को मिटाकर, भुलाकर, कभी विकसित नहीं हो सकता. मुझे संतोष है कि बीते 10 वर्षों में अब भारत में स्थितियां बदल गई हैं. भाजपा की डबल इंजन सरकार ने ‘विकास और विरासत’ को अपनी नीति का हिस्सा बनाया है.’


पीएम मोदी ने आगे कहा कि ‘असम में भाजपा की सरकार से पहले केवल 6 मेडिकल कॉलेज थे, जबकि आज यहां 12 मेडिकल कॉलेज हैं. असम आज नॉर्थ ईस्ट में कैंसर के इलाज का बहुत बड़ा केंद्र बन रहा है. पिछले 10 वर्षों में, हमने विश्वविद्यालय और कॉलेज बनाए हैं. पहले बड़े संस्थान बड़े शहरों में ही बनाये जाते थे. हमने देश में आईआईटी, आईआईएम और एम्स का नेटवर्क फैलाया है. पिछले 10 वर्षों में मेडिकल कॉलेजों की संख्या दोगुनी हो गई है.’

PM मोदी ने आगे कहा ‘पिछले 10 वर्षों में हमारी सरकार ने यहां विकास पर होने वाले खर्च को 4 गुना बढ़ाया है. 2014 के बाद रेलवे ट्रैक की लंबाई 1900 किमी से ज्यादा बढ़ाई गई. 2014 से पहले की तुलना में रेल बजट करीब 400% बढ़ाया गया है. 2014 तक यहां सिर्फ 10,000 किमी नेशनल हाईवे हुआ करते थे, पिछले 10 वर्षों में ही हमने 6,000 किमी के नए नेशनल हाइवे बनाए हैं.’

Previous Post Next Post