बसपा सुप्रीमो मायावती भी NDA के साथ मिलकर लड़ेंगी चुनाव?

 


लोकसभा चुनाव 2024 को लेकर उत्तर प्रदेश की प्रमुख पार्टियां पूरी तैयारी के साथ चुनावी मैदान में उतरने के लिए तैयार हैं. इसी बीच योगी सरकार के मंत्री और निषाद पार्टी प्रमुख संजय निषाद ने मीडिया से बात करते हुए एक बड़ा बयान दे दिया है. जब उनसे पूछा गया कि लोकसभा चुनाव को लेकर मयावती को आप साथ में ला रहे तो उन्होंने कहा कि देखिए हमारी नीति से जो भी सहमत होकर आएगा हम उनका स्वागत करगे. बहन जी ने दलितों और पिछड़ों के अवाज उठाई है.

इसके साथ ही कैबिनेट मंत्री संजय निषाद ने कहा कि जब काशीराम आए तो हर जाति और हर धर्म ने नेतृत्व रहा है. आज जो काम काशीराम के अधूरे हैं उन्हें सीएम योगी और पीएम मोदी पूरा कर रहे हैं. जब हम उनके लोगों का काम पूरा कर रहे हैं उनके जो अधूरे सपने थे तो वो भी हमारे साथ समय आने पर आ सकते हैं. इसके अलावा उन्होंने कहा कि जनता के साथ हम लोग आगे बढ़ रहे हैं, हम जनता को बढ़ा रहे हैं इसलिए आगे बढ़ रहे हैं. 70 साल बाद राम का नाम पीएम मोदी ने लिया, इससे पहले किसी ने नाम नहीं लिया.

यूपी की राजनीति में काफी अहम हैं क्षेत्रीय पार्टी

बता दें कि मायावती ने बसपा नेताओं के साथ बैठक करते हुए साफ कर दिया था कि वह लोकसभा चुनाव अकेले ही लड़ेंगी. लोकसभा चुनाव 2024 के लिए यूपी में सपा, कांग्रेस और रालोद I.N.D.I.A गठबंधन का हिस्सा हैं. वहीं एनडीए में बीजेपी के साथ अपना दल (एस), सुभासपा और निषाद पार्टी हैं. क्षेत्रीय दलों की पकड़ यूपी की राजनीति में काफी अहम मानी जाती है और इन दलों का वोट बैंक भी काफी खास होता है. लोकसभा चुनाव को लेकर I.N.D.I.A गठबंधन और एनडीए की तरफ से कोई ऑफिशियल उम्मीदवारों की लिस्ट जारी नहीं हुई है. हालांकि सपा ने अपने 16 उम्मीदवारों की लिस्ट जारी कर दी है.


Previous Post Next Post