अयोध्या पैदल आने वाले राम भक्तों से सीएम योगी की खास अपील, जानें- क्या कहा

 


रामलला की प्राण प्रतिष्ठा से पहले उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ आज शुक्रवार (19 जनवरी) को अयोध्या पहुंचे और उन्होंने सबसे पहले हनुमानगढ़ी मंदिर में दर्शन किया. इसके बाद मुख्यमंत्री ने 22 जनवरी को होने वाले प्राण प्रतिष्ठा समारोह की तैयारियों का जायजा भी लिया. वहीं सीएम योगी ने प्रेस कॉन्फ्रेंस करते हुए अयोध्या पैदल आने वाले यात्रियों से कहा कि जो भावनाएं उनके मन में हैं, वही मेरे मन में भी हैं. पैदल लोग न चलें, भीषण शीतलहरी चल रही है. हम लोग तीर्थ क्षेत्र न्यास के साथ बातचीत कर रहे हैं, अगर कोई व्यक्ति अपने हिसाब से आएगा तो दिक्कत होगी.

भक्तों के लिए ग्रीन कॉरीडोर का निर्माण किया गया- सीएम योगी

वहीं सीएम योगी ने कहा कि श्रीराम जन्मभूमि पर श्रीरामलला की प्राण प्रतिष्ठा का समारोह 22 जनवरी को होना है, अयोध्या में बाहर क्या व्यवस्थाएं हुई हैं, आज इसकी समीक्षाएं की हैं. 22 जनवरी के ऐतिहासिक कार्यक्रम को सुरक्षित और सुनियोजित तरीके से होगी. 22 के बाद भी रामलला के दर्शन के लिए जो भी योजना होगी, उसमें सरकार पूरा सहयोग करेगी और यहां पूरी श्रद्धा के साथ दर्शन करने का अवसर होगा. इसके लिए धर्मशाला और होटल हैं. लखनऊ, वाराणसी, गोरखपुर से आने वाले भक्तों के लिए ग्रीन कॉरीडोर का निर्माण किया गया है.

22 जनवरी का कार्यक्रम ऐतिहासिक कार्यक्रम- सीएम योगी

सीएम योगी ने कहा कि 5 सदी के बाद ये अवसर आया है, मैं पूरे विश्वास के साथ कह सकता हूं कि 22 जनवरी का कार्यक्रम ऐतिहासिक कार्यक्रम है. सीएम योगी ने कहा कि संतो के आशीर्वाद से, रामलला के आशीर्वाद से हम इस कार्यक्रम को पूरा करेंगे. किसी को असुविधा नहीं होगी, इस बात की जिम्मेदारी सरकार की है. निचले स्तर तक लोगों से संवाद किया जा रहा है, ट्रेन से लेकर बस की व्यवस्था कर रहे हैं.

Previous Post Next Post