'मुझे शर्म आती है, 9 साल पहले किया वादा नहीं हुआ पूरा...', नगा शांति समझौते पर राहुल गांधी ने कसा पीएम मोदी पर तंज


Kohima
: कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने बुधवार (17 जनवरी) को नगा शांति समझौते को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को घेरा है. उन्होंने कहा है कि अगर पीएम मोदी के पास शांति समझौते का समाधान नहीं था तो फिर उन्हें झूठ नहीं बोलना चाहिए था. राहुल इन दिनों कांग्रेस की 'भारत जोड़ो न्याय यात्रा' कर रहे हैं, जिसकी शुरुआत मणिपुर से हुई. वर्तमान में ये यात्रा नगालैंड पहुंची है, जहां उन्होंने लोगों को संबोधित करते हुए शांति समझौते को लेकर बात की. 

नगालैंड के मोकोकचुंग में लोगों से शांति समझौते को लेकर बात करते हुए कांग्रेस नेता राहुल ने कहा, 'मुझे शर्म आती है कि भारतीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 9 साल पहले नगालैंड के लोगों से वादा किया था, लेकिन इस बारे में कुछ नहीं किया. अगर आपके पास कोई समाधान नहीं है तो आपको इस बारे में झूठ नहीं बोलना चाहिए.' राहुल ने कहा कि पीएम मोदी ये कह सकते थे कि अभी हमें समाधान पर काम करने की जरूरत है और हम इस पर काम करेंगे. 

शांति समझौते पर बातचीत की जरूरत: राहुल गांधी

भारत जोड़ो न्याय यात्रा सोमवार (15 जनवरी) शाम को नगालैंड में पहुंची. राहुल ने कहा कि मैंने नगा नेताओं से बात की है. वे इस बात को समझ नहीं पा रहे हैं कि अभी तक शांति समझौते की दिशा में कोई कदम क्यों नहीं उठाया गया है. कांग्रेस नेता ने कहा, 'हमें ये भी नहीं मालूम है कि पीएम मोदी समाधान को लेकर क्या सोचते हैं. ये एक ऐसी समस्या है, जिसके लिए बातचीत करनी होगी, एक-दूसरे को सुनना और समाधान लागू करने पर काम करना होगा.'

नगा HOHO ने राहुल गांधी से की मुलाकात

समाचार एजेंसी एएनआई के मुताबिक, नगालैंड के सबसे प्रभावी संगठनों में से एक नगा HOHO ने राहुल गांधी से मुलाकात की है. संगठन ने राहुल से 2015 में साइन किए गए नगा शांति समझौते के लागू नहीं होने पर चिंता जताई. उनका कहना है कि 2015 के समझौते के तहत तय किए गए फ्रेमवर्क को अभी तक लागू नहीं किया गया है. राहुल ने कहा कि हमने संगठन से कहा है कि हम नगालैंड के लोगों को न्याय दिलवाकर ही रहेंगे. 

Previous Post Next Post