पहला विधानसभा चुनाव जीते भजनलाल शर्मा को बीजेपी ने चुना सीएम, जानें कैसे हुआ मुख्यमंत्री के नाम का चयन?BJP


 राजस्थान में मुख्यमंत्री के नाम की घोषणा हो गई है. पार्टी विधायक दल ने भजनलाल शर्मा को चुना है. शर्मा ब्राह्मण चेहरे हैं, वो राज्य के अगले मुख्यमंत्री होंगे. शर्मा पहली बार विधायक बने हैं. सांगानेर से विधायक हैं.

राजनाथ सिंह ने कहा कि राजस्थान बीजेपी विधायक दल की बैठक में पूर्व सीएम वसुंधरा राजे के द्वारा भजनलाल शर्मा का नाम प्रस्तावित किया गया. जिसपर सभी विधायकों ने सर्वसम्मति दी. दिया कुमारी और प्रेम चंद बैरवा डिप्टी सीएम होंगे. वासुदेव देवनानी स्पीकर होंगे.

टिकट काटकर भजनलाल शर्मा को बनाया था उम्मीदवार

बीजेपी ने 2023 के विधानसभा चुनाव में वर्तमान विधायक अशोक लौहाटी का टिकट काट कर भजनलाल शर्मा को दिया. भजनलाल शर्मा ने कांग्रेस के पुष्पेंद्र भारद्वाज को 48081 वोटों से शिकस्त दी थी.

इस नाम के चयन से पहले बीजेपी में लंबा मंथन चला. दरअसल, पार्टी के सामने सबसे बड़ी चुनौती वसुंधरा राजे को मनाना था. इसके लिए राजनाथ सिंह को पर्यवेक्षक बनाया गया. उनके साथ विनोद तावड़े और सरोज पांडेय को सह-पर्यवेक्षक बनाया गया. तीनों ही नेता आज (12 दिसंबर) जयपुर पहुंचे. 


पहुंचते ही राजनाथ सिंह ने वसुंधरा राजे के साथ होटल ललित में बैठक की. ये बैठक आधे घंटे के करीब चली. बैठक के बाद वसुंधरा राजे और राजनाथ सिंह पार्टी ऑफिस के लिए निकले. इस दौरान वसुंधरा मुस्कुरा रहीं थीं.


पार्टी ऑफिस में विधायक दल की बैठक से पहले फोटो सेशन हुआ. यहां वसुंधरा राजे आगे की कतार में राजनाथ सिंह और प्रह्लाद जोशी के बगल में बैठीं थीं. इसके बाद विधायक दल की बैठक शुरू हुई.


वसुंधरा का शक्ति प्रदर्शन

राजस्थान में विधानसभा चुनाव परिणाम आने के साथ ही वसुंधरा राजे ने मुख्यमंत्री पद के लिए जोर आजमाइश शुरू कर दी. उन्होंने अपने खेमे के विधायकों के साथ 4 और 5 दिसंबर को बैठक की. इसे शक्ति प्रदर्शन के तौर पर देखा गया था.

इसके बाद सात दिसंबर को वसुंधरा राजे ने बीजेपी के अध्यक्ष जेपी नड्डा से मुलाकात की. इस दौरान उनके हाथ में फाइलें थी. सूत्रों ने एबीपी न्यूज़ को बताया कि वसुंधरा ने अपने ऊपर लग रहे आरोपों को खारिज किया. 


सूत्रों ने बताया कि वसुंधरा ने साथ ही सभी सीटों पर हार जीत का लेखा-जोखा दिया. मुख्यमंत्री पद पर फैसला उन्होंने हाईकमान के लिए छोड़ दिया. 


वसुंधरा ने गृह मंत्री अमित शाह से भी मुलाकात की. इसके बाद दो बार की मुख्यमंत्री रहीं वसुंधरा राजे जयपुर वापस लौट गईं. यहां उन्होंने रविवार को भी कई विधायकों के साथ बैठकें की. 


इन सब के बीच बीजेपी ने रिजल्ट के 9 दिनों बाद सीएम के नाम की घोषणा कर दी है. रेस में वसुंधरा राजे के साथ अर्जुन राम मेघवाल, गजेंद्र सिंह शेखावत और अश्विनी वैष्णव के नाम भी आए. 

Previous Post Next Post