साइक्लोन 'मिगजॉम' जल्द आंध्र प्रदेश में देगा दस्तक, तूफान से चेन्नई में 5 लोगों की मौत


नई दिल्ली:
साइक्लोन 'मिगजॉम' (Cyclone Michaung) की वजह से चेन्नई मौसम विज्ञान केंद्र ने मंगलवार सुबह तमिलनाडु के दस जिलों में मध्यम बारिश, हल्की आंधी और बिजली गिरने का अनुमान लगाया है. चेन्नई, तिरुवल्लुर में हल्की आंधी और बिजली गिरने के साथ मध्यम बारिश होने की संभावना है.

मामले से जुड़ी अहम जानकारियां :

  • चेन्नई मौसम विज्ञान केंद्र ने मंगलवार सुबह तमिलनाडु के दस जिलों में मध्यम बारिश, हल्की आंधी और बिजली गिरने का अनुमान लगाया है. चेन्नई, तिरुवल्लुर में हल्की आंधी और बिजली गिरने के साथ मध्यम बारिश होने की संभावना है.भारत मौसम विज्ञान विभाग के महानिदेशक मृत्युंजय महापात्रा ने कहा कि सोमवार रात 9 बजे तक चक्रवात के केंद्र के पास हवा की स्पीड 90-100 किमी प्रति घंटा और आंध्र प्रदेश के नेल्लोर और प्रकाशम जिलों में 70-80 किमी प्रति घंटा थी.
  • चक्रवात उत्तर की तरफ बढ़ रहा है, इसलिए तमिलनाडु के चेन्नई, तिरुवल्लूर और कांचीपुरम जिलों के पास हवा की स्पीड धीरे-धीरे कम  होकर करीब 50-60 किमी प्रति घंटा हो गई है. तमिलनाडु तट के पास ये स्पीड और कम हो जाएगी. आधी रात से 'मिगजॉम' तूफान धीरे-धीरे आंध्र प्रदेश की तरफ बढ़ेगा, जिसके बाद नेल्लोर और मछलीपट्टनम के बीच 90-100 किमी प्रति घंटा की स्पीड से हवा चल सकती है, यह स्थिति मंगलवार सुबह तक जारी रहेगी.
  • साइक्लोन 'मिगजॉम' की  वजह से छोटे और मध्यम पेड़ों के उखड़ने, झोपड़ियों और मिट्टी के घरों को बड़े स्तर पर  नुकसान होने और टेलीफोन और बिजली के खंभों को आंशिक नुकसान होने की संभावना है. चक्रवात की वजह से सैलाब और बाढ़ भी आ सकती है, ऐसा चेन्नई में पहले ही हो चुका है. महापात्रा ने चेतावनी दी कि तटीय आंध्र प्रदेश के शहरों और कस्बों में भारी और बारिश हो सकती है. 
  • साइक्लोन 'मिगजॉम' की वजह से 1-1.5 मीटर की तूफानी लहर से दक्षिण तटीय आंध्र प्रदेश के निचले इलाकों में बाढ़ आ सकती है. और तूफान का असर सबसे ज्यादा बापटला और कृष्णा जिलों में देखने को मिलेगा. 'मिगजॉम' के एक गंभीर चक्रवाती तूफान के रूप में टकराने की आशंका है, जिसमें 90-100 किमी प्रति घंटे की हवा की स्पीड बढ़कर 110 किमी प्रति घंटे हो सकती है. 
  • चक्रवात 'मिगजॉम' की वजह से आई बारिश की वजह से चेन्नई में सोमवार को पांच मौतें हुईं. न्यूज एजेंसी पीटीआई के मुताबिक, चेन्नई पुलिस ने कहा कि दो लोगों की बिजली का करंट लगने से, जबकि शहर के पॉश बेसेंट नगर इलाके में एक व्यक्ति पर पेड़ गिरने से मौत हो गई. शहर के बारिश प्रभावित दो अलग-अलग हिस्सों में एक महिला और पुरुष के दो अज्ञात शव बरामद किए गए हैं. 
  •  बाढ़ और बड़े पैमाने पर बिजली कटौती वाले चेन्नई और ग्रेटर चेन्नई क्षेत्र में मंगलवार सुबह 12 बजे के बाद स्थिति में सुधार होने की उम्मीद है. महापात्रा ने कहा, "हम आधी रात के बाद बहुत भारी बारिश की उम्मीद नहीं हैं. सिर्फ कुछ ही जगहों पर  बहुत भारी बारिश की उम्मीद जताई जा रही है. जैसे-जैसे चक्रवात चेन्नई से दूर जाएगा, बारिश  और हवा की स्पीड घटती जाएगी. हवा की स्पीड 50-60 किमी से कम होकर प्रति घंटा से 35-45 किमी रह जाएगी. 
  • साइक्लोन को देखते हुए चेन्नई हवाईअड्डा मंगलवार सुबह 9 बजे तक बंद रहेगा. राज्य सरकार ने चेन्नई, चेंगलपट्टू, कांचीपुरम और तिरुवल्लूर जिलों के लिए सार्वजनिक अवकाश भी घोषित किया है. सरकार ने निजी कंपनियों से अपील की है कि जहां तक ​​संभव हो कर्मचारियों को घर से काम करने दें. 
  • साइक्लोन के कहर के बीच केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने सोमवार को तमिलनाडु, आंध्र प्रदेश और पुडुचेरी के मुख्यमंत्रियों से बात कर उनको केंद्र से जरूरी मदद मिलने का आश्वासन दिया. अमित शाह ने कहा कि NDRF की टीम पहले ही तैनात की जा चुकी है. किसी भी सहायता के लिए अतिरिक्त टीमें भी तैयार हैं.
  • आंध्र प्रदेश के कृष्णा जिले के कलेक्टर राजा बाबू ने कहा कि साइक्लोन 'मिगजॉम' आधी रात के बाद जिले को छुएगा और सुबह 4 बजे से पहले मछलीपट्टनम पहुंचेगा. कलेक्टर ने कहा, सभी जरूरी व्यवस्थाएं कर ली गई हैं. बापटला के पुलिस अधीक्षक वकुल जिंदल ने कहा, "बापटला के सभी पुलिस स्टेशनों को अलर्ट कर दिया गया है. बचाव कार्य के लिए एनडीआरएफ और एसडीआरएफ की टीमें मौजूद हैं. निचले इलाकों में रहने वाले सभी लोगों को साइक्लोन को देखते हुए बनाए गए शेल्टरों में भेजा जा रहा है."
  • आंध्र प्रदेश सरकार ने आठ जिलों-तिरुपति, नेल्लोर, प्रकाशम, बापटला, कृष्णा, पश्चिम गोदावरी, कोनसीमा और काकीनाडा के लिए अलर्ट जारी किया है. पुडुचेरी में तटीय इलाकों में धारा 144 लागू कर दी गई है, जिससे वहां आवाजाही पर मंगलवार शाम 6 बजे तक रोक लगा दी गई है.

Previous Post Next Post