कर चोरी रोकने में गढ़वाल मंडल के अधिकारी नाकाम - Tax Chori in Gadhwal Mandal

- कर अपवंचक ट्रांसपोर्टर प्रतिदिन लगा रहे हैं सरकार को लाखों रुपए का चुना


देहरादून
। गढ़वाल मंडल में वाणिज्य कर अधिकारी कर अपवंचन रोकने में विफल साबित हो रहे हैं दिल्ली, पंजाब, सहारनपुर, उत्तर प्रदेश के अन्य जिलों से कर अपवंचन का माल निरंतर लाया जा रहा है जिससे सरकार को प्रतिदिन लाखों रूपए राजस्व की हानि उठानी पड़ रही है कई जगह पर तो अधिकारियों की मिलीभगत से कर अपवंचन का कारोबार फल फूल रहा है।

गढ़वाल मंडल के देहरादून, रुड़की, हरिद्वार, ऋषिकेश, विकास नगर में प्रतिदिन कर अपवंचन कर पान मसाला, होजरी, रेडीमेड गारमेंट, ड्राई फ्रूट, कॉस्मेटिक, ऑटो पार्ट्स, मोटर पार्ट्स, इलेक्ट्रॉनिक, परचून आदि का माल लाया जाता है जिस काम को अंजाम एक दर्जन से अधिक ट्रांसपोर्टर दे रहे हैं ऐसा नहीं की इस सबसे वाणिज्य कर अधिकारी अनजान है देहरादून में तो अधिकारी कुछ कार्रवाई करते भी हैं लेकिन विकास नगर रुड़की हरिद्वार ऋषिकेश मे अधिकारी आँख पर पट्टी बांधकर बैठे हैं और सेटिंग गेटिंग के साथ इस काम को अंजाम दिया जा रहा है जिससे सरकार को प्रतिदिन लाखों रूपए  राजस्व का चूना लगाया जाता है इन जगहों पर विभागीय अधिकारियों की मिली भगत से इनकार नहीं किया जा सकता है। इन जगहों पर कर अपवंचन कारोबारी को अधिकारियों की ओर से हरी झंडी मिली हुई है जिस कारण यहां पर धड़ले से कर चोरी का यह कार्य किया जा रहा है पहले तो यह माल दिल्ली, पंजाब, सहारनपुर एवं यूपी के अन्य जिलों से देहरादून, विकास नगर, हरिद्वार, ऋषिकेश, रुड़की लाया जाता है और फिर समस्त गढ़वाल मंडल में डिस्ट्रीब्यूशन किया जाता है इस काम को रुड़की हरिद्वार ऋषिकेश में खन्ना ट्रांसपोर्ट, जय भारत ट्रांसपोर्ट, सी आर एल लॉजिस्टिक्स, चंद्र ट्रांसपोर्ट गौरव ट्रांसपोर्ट रामकृष्ण ट्रांसपोर्ट सहारनपुर हरिद्वार एवं अन्य कई और ट्रांसपोर्ट इस कार्य में लिप्त है वही देहरादून, में रामकृष्णा ट्रांसपोर्ट, गुरु नानक गुड्स, गौरव ट्रांसपोर्ट, अन्य कई और ट्रांसपोर्टर इस कार्य में अपनी भूमिका निभा रहे हैं। अब देखना यह होगा के विभाग के मुखिया कमिश्नर महोदय वैसे तो अधिकारियों को ईमानदारी और टैक्स चोरी रोकने का पाठ पढ़ाते हैं लेकिन जो अधिकारी कर अपवंचन के इस कार्य में लिप्त है उनके विरुद्ध क्या कार्रवाई करते इस टैक्स चोरी को कैसे रोकते हैं ?

डोईवाला में बैठा एक ट्रांसपोर्टर खुलेआम करता है कर अपवंचन एवं प्रतिबंधित पॉलीथिन का धंधा

देहरादून से लेकर डोईवाला तक काम करने वाला यह ट्रांसपोर्टर सहारनपुर से कर अपवंचन का माल एवं प्रतिबंधित पॉलीथिन खुलेआम लेकर जाता है जब भी इसकी गाड़ी चेक होती है तभी अधिकारियों को इसकी गाड़ी में खास तौर पर केबिन में कर अपवंचन का माल मिलता है इतना ही नहीं इसके गोदाम से प्रतिबंधित पॉलीथिन भी पकड़ी जा चुकी है और विभाग के साथ नगर निगम भी इस पर दो लाख रुपए की पेनल्टी लगा चुका है जो मामला डोईवाला एसडीएम कोर्ट में विचाराधीन है लेकिन उक्त ट्रांसपोर्टर का कोई कुछ बिगाड़ नहीं पाया है क्योंकि सूत्रों की माने तो इसके सर पर सरकार में अच्छा रसूक रखने वाले एक मंत्री जी का हाथ है जिनके साए में इसका अवैध कारोबार फल फूल रहा है इतना ही नहीं कुछ माहपूर्व देहरादून के असिस्टेंट कमिश्नर इसके गोदाम से चार-पांच गाड़ी का माल भरकर लाए थे और माननीय मंत्री जी का फोन करा कर इसने दो दिन में ही अपना सब माल बिना पेनल्टी के लिए छुड़वा दिया था सूत्रों से तो यह भी ज्ञात हुआ है कि उपरोक्त दो लाख रुपए की लगी पेनल्टी भी अभी तक इसने जमा नहीं की है क्या ऐसे ट्रांसपोर्ट के विरुद्ध अभियान चलाकर विभाग के उच्च अधिकारी कोई कार्यवाही करेंगे या नहीं ?

Previous Post Next Post