मार्केट में Tata Technologies की हुई धमाकेदार एंट्री, निवेशक हुए मालामाल


बिजनेस डेस्क, नई दिल्ली। टाटा ग्रुप की कंपनी टाटा टेक्नोलॉजीज लिमिटेड का आईपीओ निवेशकों के लिए 22 नवंबर से 24 नवंबर 2023 को खुला था।आज कंपनी के शेयर स्टॉक एक्सचेंज में प्री-स्पेशल सत्र में लिस्ट होगा। कंपनी के आईपीओ को निवेशकों से काफी अच्छा रिस्पांस मिला था। टाटा टेक्नोलॉजीज के आईपीओ पहले दिन ही चंद मिनटों में पूरा सब्सक्राइब हो गया था।

आज कंपनी के शेयर 410 फीसदी प्रीमियम के साथ लिस्ट हुई है। कंपनी के शेयर 500 रुपये के निर्गम मूल्य के मुकाबले 140 प्रतिशत के प्रीमियम के साथ लिस्ट हुए हैं। इस से साफ पता चलता है कि कंपनी के निवेशकों को काफी लाभ मिला है। इंजीनियरिंग और प्रोडक्ट डेवल्पमेंट डिजिटल सर्विस देने वाली कंपनी का स्टॉक बीएसई पर 139.99 प्रतिशत की तेज उछाल दर्ज करते हुए 1,199.95 रुपये पर सूचीबद्ध हुआ। यह 180 प्रतिशत बढ़कर 1,400 रुपये पर पहुंच गया।

वहीं, एनएसई पर इसने 140 प्रतिशत की तेजी के साथ 1,200 रुपये पर कारोबार शुरू किया। इसके बाद में स्टॉक उछलकर 1,400 रुपये पर पहुंच गया। आज सुबह के कारोबार के दौरान कंपनी का बाजार मूल्यांकन 52,939.74 करोड़ रुपये रहा।

टाटा मोटर्स की एक शाखा, टाटा टेक्नोलॉजीज के शेयरों ने गुरुवार को शेयर बाजार में स्वप्निल शुरुआत की, 500 रुपये के निर्गम मूल्य के मुकाबले 140 प्रतिशत के भारी प्रीमियम के साथ सूचीबद्ध हुए।

आज कंपनी के शेयर के लिस्ट होने से पहले ही कंपनी को लेकर एक बड़ी अपडेट आई है। आपको बता दें कि टाटा टेक की सबसे बड़ी क्लाइंट विनफास्ट (VinFast) है। वर्तमान में विनफास्ट के शेयर की कीमत में 90 फीसदी तक की गिरावट देखने को मिली है। यह गिरावट निवेशकों को चिंता में डाल सकती है।

बुधवार को टाटा टेक के शेयरों को अलॉट कर दिया गया है। यानी कि बीते दिन निवेशकों के डीमैट अकाउंट में शेयर क्रेडिट हो गए होंगे। वहीं जिन निवेशकों को शेयर अलॉट नहीं हुआ है उन्हें आज रिफंड मिल जाएगा।

टाटा टेक आईपीओ

कंपनी का आईपीओ निवेशकों के लिए 22 नवंबर से 24 नवंबर खुला था। कंपनी ने 3,042.51 करोड़ का आईपीओ खोला था। कंपनी ने आईपीओ का प्राइस बैंड 475-500 रुपये प्रति शेयर तय किया था। कंपनी के आईपीओ को निवेशकों से काफी अच्छा रिस्पांस मिला था। रिकॉर्ड के अनुसार कंपनी को 73.58 लाख आवेदन मिले थे। ओवर ऑल कंपना का आईपीओ 69.43 गुना सब्सक्राइब हुआ था।

टाटा ग्रुप का यह दूसरा आईपीओ है। इस से पहले 2004 में टीसीएस का आईपीओ निवेशकों के लिए खुला था।

Previous Post Next Post